Yojana Pedia

Sarkari Yojana, State Government Schemes

Dak Jeevan Bima Yojana Online Form Payment Details in Hindi

Dak Jeevan Bima Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Dak Jeevan Bima Yojana Online Form Payment Details in Hindi (Postal Life Village Insurance Scheme)

डाक जीवन बीमा के विषय में: भारत देश में ब्रिटिश शासन के समय वर्ष 1 फरवरी 1884 में डाक जीवन सुरक्षा योजना / डाक जीवन बीमा (पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स) (Postal Life Insurance) का शुभारम्भ किया गया था । भारतवर्ष में पोस्ट ऑफिस अपने आधारिक कार्य संग जीवन सुरक्षा योजना / बीमा योजना (Dak Jeevan Bima Yojana) का विक्रय करता है । पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस स्कीम / जीवन सुरक्षा योजना देश की सबसे प्राचीन जीवन सुरक्षा योजना / बीमा योजना में समाविष्ट है ।

Dak Jeevan Bima Yojana Online Form

पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस स्कीम / जीवन सुरक्षा योजना लाभग्राही ₹ 10.00 लाख राशि तक की जीवन सुरक्षा योजना क्रय / प्राप्त कर सकते हैं ।

पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी के विषय में महत्त्वपूर्ण बिंदु:

01) पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स का सुविधा प्लान (Suvidha Plan) ।
02) पोस्टल लाइफ इंस्युरेंस के इस प्लान की कुछेक मुख्य विशेषताएं: नामशः सुविधा योजना अक्षयनिधि जीवन सुरक्षा / बंदोबस्ती बीमा (एन्डाउमेन्ट इंस्युरेन्स) (Endowment Insurance) के समतुल्य है । पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस के 5 साल पूरे हो जाने के पश्चात यह जीवन सुरक्षा योजना को अक्षयनिधि जीवन सुरक्षा (एन्डाउमेन्ट एस्युरेंस) (Endowment Assurance) में भी परिवर्तित किया जा सकती है ।

डाक जीवन सुरक्षा योजना / डाक जीवन बीमा (पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स) नियम व प्रतिबन्ध (Terms and Conditions):

01) कि ग्रामीण डाक जीवन सुरक्षा / डाक जीवन बीमा क्रय करने वाले अथवा खरीदने वाले ग्राहक की आयु 55 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए ।

02) कि छह साल तक ग्रामीण डाक सुरक्षा योजना / डाक जीवन बीमा योजना खरीदने वाला डाक जीवक सुरक्षा योजना धारक (पॉलिसी बेयरर) परिवर्तन का विकल्प नहीं चुनता तो उसकी वही जीवन सुरक्षा को स्वतः ही जीवनपर्यन्त सुरक्षा योजना (होल लाइफ इंस्युरेन्स) में परिवर्तित हुआ माना जावेगा ।
03) कि पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस पर जीवन सुरक्षा योजना धारक के लिए ऋण सुविधा सहायता भी उपलब्ध है।
04) कि तीन वर्ष के पश्चात ग्रामीण जीवन सुरक्षा धारक पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी को सरेंडर (परित्याग) भी किया जा सकता है ।
05) कि यदि ग्रामीण डाक जीवन सुरक्षा योजना (Village Postal Life Insurance Policy) का क्रय करने वाला ग्राहक पांच साल से पहले अपने जीवन सुरक्षा योजना (लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी) पर लोन असिस्टेंस सम (ऋण सहायता राशि) लेता है या पॉलिसी का सरेंडर करता है तो उसे पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पर किसे भी रूप में अधिलाभांश राशि (बोनस सम) देय नहीं होगा ।

Dak Jeevan Bima Yojana “सुमंगल जीवन सुरक्षा योजना” के प्रक्रिया, सुगम लाभ:

01) डाक जीवन सुरक्षा योजना / पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी को सुमंगल जीवन सुरक्षा योजना नाम से भी जाना जाता है ।
02) ग्रामीण डाक जीवन सुरक्षा योजना के अंतर्गत प्लान ₹ 5.00 लाख के अधिकतम जीवन सुरक्षा के साथ मनी बैक पॉलिसी है (Money Back Policy) अगर आपको भी समय-समय पर कुछ राशि की आवश्यकता होती है तो आप यह पॉलिसी ले सकते हैं । पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स के सुमंगल योजना में एक ग्राहक के रूप में आपको समय-समय पर उत्तरजीविता लाभ (सर्वाइवल बेनिफिट) मिलते हैं ।
03) डाक जीवन सुरक्षा योजना खरीदने वाले व्यक्ति की अप्रत्याशित मृत्यु की स्थिति में इस तरह के संदाय को शामिल नहीं किया जाता है । इस प्रकारेण स्थिति में नामित या नियम उत्तराधिकारी को अधिलाभांश के साथ डाक जीवन बीमा की पूरी राशि मिल जाती है ।

Dak Jeevan Bima Yojana ग्रामीण जीवन सुरक्षा योजना:

01) पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स के इस प्लान में दो तरह की पॉलिसी है । प्रथम 15 वर्ष तथा द्वितीय 20 वर्ष अवधि के लिए क्रय किया जा सकता है ।
02) जीवन सुरक्षा योजना धारक को 15 वर्ष वाली जीवन सुरक्षा योजना लेने पर ग्राहक को 06 साल के बाद समुच्चय संचित राशि का 20%, 09 साल के बाद 20%, 12 वर्ष पश्चात, पुनः 20% और 15 वर्ष पूर्ण होने पर 40% एवं अधिलाभांश (Bonus) दिए जाने का प्रावधान है ।
03) 20 वर्षावधि के लिए पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी लेने पर 08 वर्ष पश्चात 20%, 12 वर्ष पश्चात 20%, 16 वर्षावधि के बाद 20% तथा 20 वर्षावधि पश्चात 40% एवं अधिलाभांश (Bonus) दिए जाने का प्रावधान है ।

01) इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड तथा इसकी सुरक्षा – क्रिया-कलाप :

पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड एक पॉलिसी के जीवन के दौरान सबसे महत्वपूर्ण प्रलेख है। यही वह प्रलेख है जिसे दावों के निपटान सहित विभिन्न सेवा कार्यों के संबंध में आह्वान किया जाएगा। इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड प्राप्त करने के पश्चात सर्वप्रथम कृपया उसे एक सुरक्षित स्थान पर रख दें तथा द्वितीय अपने निकट और प्रिय सम्बन्धियों को इसके विषय में सूचित करना न भूलें।

02) पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड नंबर:

लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉण्ड का कृपया पुनःअवलोकन करें । इसमें लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड अंक संख्या नामक 13 अंकों की संख्या है । यह एक विशिष्ट संख्या है जो लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड को पहचान देती है। पॉलिसी की सेवा कार्य से संबंधित किसी भी पत्राचार में आपको इस संख्या का उद्धरण देना होगा। इसलिए हम आप अपनी किसी अति महत्त्वपूर्ण डायरी में इस नंबर को अंकित करने करें । चेक के माध्यम से अधिमूल्य संदाय / पेमेंट ऑव प्रीमियम के समय, चेक के पीछे इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड नंबर को उद्धृत अवश्य करें ।

03) प्रीमियम पेमेंट / अधिमूल्य संदाय:

प्रीमियम का पेमेंट तथा प्रेषण एक लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी के जीवनकाल में सबसे महत्वपूर्ण और सबसे बारंबार होनेवाली घटना है व आपको समय पर अविलम्ब प्रीमियम का पेमेंट अवश्यं कर देना हिए। समय पर प्रीमियम का पेमेंट नहीं किये जाने की स्थिति में लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी योजना का निरस्त हो जाना निश्चित है जिसका अर्थ यह है कि आपके लिए जीवन सुरक्षा उपलब्ध नहीं होगी।

*इस पर कुछ एक सुनिश्चित छूट हैं । यद्यपि आम तौर पर, निरस्त समय अवधि में जीवन जोखिम को सुरक्षा नहीं मिलती है। प्रीमियम के भुगतान में विलम्ब विलंब शुल्क आमंत्रित करता है ।

ग्रामीण जीवन सुरक्षा योजना – अधिमूल्य संदाय समय:

जीवन सुरक्षा योजना अधिमूल्य (प्रीमियम) का प्रत्येक माह के प्रथम दिवस दिन अग्रिम रूप से संदाय व प्रेषण किया जाना चाहिए। हालांकि, अनुग्रह अवधि की अनुमति तदनुरूप माह के अंतिम कार्य दिवस तक की है ।

पोस्टल / ग्रामीण इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉण्ड से, पॉलिसी आरंभ होने की तिथि, देय तिथि और प्रीमियम पेमेंट की विधि:
अधिमूल्य संदाय / Premium Policy Payment विधि चार प्रकार से है, अर्थात आवृत्ति (Recurrence /Issuance), वार्षिक (Annual), अर्ध-वार्षिक (Bi-Annual / Half-Yearly), त्रैमासिक (Quarterly / Terminal), माहवार (Monthly) इत्यादि । इन सूचनाओं के आधार पर, अपनी डायरी में प्रीमियम भुगतान के लिए नियत तिथियों का कृपया एक चार्ट बनाएं । उदाहरण के लिए, यदि आरंभ की तिथि 20 जून 2019 है और विधि त्रैमासिक है, तो देय तिथि 01 जून, 01 सितंबर, 01 दिसंबर, 01 मार्च मार्च होंगे। अतएव कृपया इन तिथियों और सम्बंधित प्रीमियम सम को लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी संख्या के समक्ष अपनी डायरी में उल्लेखित कर लें।

लाभग्राही अपने मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पंजीकरण: ग्राहक को इस प्रणाली में अपने मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी के अद्यतन कराने के लिए निकटतम डाकघर में जाना होगा। इस उद्देश्य के लिए, उसे लिखित में अनुरोध करना होगा।

ग्राहक आईडी का निर्माण: ग्राहकों को वास्तविक समय के आधार पर अपने डाक जीवन जीवन सुरक्षा योजना / ग्रामीण डाक जीवन बीमा पॉलिसीज रिलेटेड लेनदेन को देखने और कार्यान्वित करने की अनुमति देने के लिए, https://pli.indiapost.gov.in/CustomerPortal/PSLogin.jsp PDF File के माध्यम से ग्राहक पोर्टल पर ग्राहक आईडी का निर्माण एक पूर्व-आवश्यकता है । पोर्टल पर ग्राहक आईडी बनाने से पहले, ग्राहक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उसका मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी प्रणाली में संबंधित लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी बॉन्ड के समक्ष अद्यतन किया हुआ है। ग्राहक केवल मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी के अद्यतनीकरण के पश्चात् ही ग्राहक पोर्टल पृष्ठ पर निचले बाईं ओर स्थित ‘जनरेट कस्टमर आईडी’ बटन पर क्लिक करके पोर्टल पर पंजीकरण कर पाएगा। ‘जेनेरेट कस्टमर आईडी’ बटन पर क्लिक करने पर, ग्राहक को पोर्टल पृष्ठ पर ले जाया जाएगा, जहां ग्राहक को कुछ अनिवार्य जानकारियां जैसे पॉलिसी संख्या, सुक्षित / बीमित राशि, बीमाधारक का प्रथम नाम, ई-मेल आईडी आदि, भरना होगा। सभी अनिवार्य जानकारियों के भर जाने क पश्चात्, ग्राहक ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करना होगा, जिससे ग्राहक आईडी को पासवर्ड पुन: स्थापन करने के लिए लिंक के साथ ग्राहक के पंजीकृत ईमेल आईडी पर भेजा जाएगा।

वेतन से कटौती के माध्यम से प्रीमियम के भुगतान के लिए:
कृपया समय-समय पर जांच कर लें कि आपका नियोक्ता नियमित रूप से आपके वेतन से कटौती किये प्रीमियम को पीएलआई को भेज रहा है । प्रेषण में कोई चूक या देरी आपके हित के खिलाफ होगी, क्योंकि इसके परिणामस्वरूप बीमा सुरक्षा बंद हो सकती है। किसी को एक संक्षिप्त अवधि के लिए भी बीमा सुरक्षा बंद नहीं होनी चाहिए। यह सुनिश्चित करने के लिए की पीएलआई प्रीमियम काट ली गयी है कृपया नियमित रूप से अपने वेतन पर्ची की जांच करते रहें।

यदि आपकी सेवाएं स्थानांतरित होती हैं, तो कृपया अपने नए कार्यालय से उस पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस के स्थान का पता कर लें, जहां आपके पीएलआई प्रीमियम को भेजा जाएगा। कृपया पुराने पीएलआई कार्यालय को अवश्य सूचित कर दें कि अब से आपके प्रीमियम को पीएलआई के xxxxx कार्यालय में भेजा जाएगा। [xxxxx नया पीएलआई कार्यालय है] यह महत्वपूर्ण है।

आपका स्थायी प्रमाचर / ई-मेल आईडी / मोबाइल नंबर पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स को आपकी सेवाओं के अक्सर स्थानांतरित किये जाने पर भी, आपसे संपर्क करने में सहायता करता है।

प्रीमियम का भुगतान विधि व स्थान:

भिन्न-भिन्न लोगों के पृथक चयन विकल्प होते हैं । जिनमें से कुछा लोग पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस / निकटतम डाकघर में आना पसंद करते हैं और कुछ अन्य कतार में खड़े होना पसंद नहीं करेंगे। इसे ध्यान में रखते हुए, इसीलिए पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस सभी प्रकार के ग्राहकों के लिए सुविधाएं प्रदान करने हेतु प्रयासरत रहता है ।

यदि आप उनमें से एक हैं जो काउंटर (पटल) पर संदाय करने के इच्छुक हैं तो अधिमूल्य का संदाय किसी भी पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस में किया जा सकता है ।

निवास प्रमाचार सूचना:

याद रखने वाली अगली महत्वपूर्ण बात यह है कि आपका पता और टेलीफोन नंबर आपके बारे में सबसे महत्वपूर्ण जानकारियां हैं । पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस का प्रयास परिपक्वता की नियत तिथि या उससे पहले दावा चेक भेज देने का होता है । बेहतरीन प्रयासों के पश्चात हम इंस्युरेन्स पॉलिसी कि परिपक्वता की तारीख से पहले कोई दावा चेक भेजने में विफल हो जाते हैं क्योंकि इंस्युरेन्स पॉलिसी बेयरर / जीवन सुरक्षा योजना धारक अपने पते में परिवर्तन को दर्ज कराना भूल जाता है। क्या आप कृपया डाकघर को अपने पते के परिवर्तन के बारे में बताना याद रखेंगे, जब भी ऐसा होता है? कृपया जांच लें कि आपका पता पॉलिसी अनुसूची में ठीक से मुद्रित किया गया है या नहीं।

पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी नामांकन:
यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि आपकी पॉलिसी में एक नामिति होना चाहिए । कई बार मृत्यु के दावे के निपटान में दुर्भाग्यपूर्ण विलंब इसलिए होता है क्योंकि नामांकन नहीं किया गया था। एक जिम्मेदार व्यक्ति के रूप में आप निश्चित रूप से किसी को नामांकित करेंगे, अधिमानतः अपने परिवार के एक निकट एवं प्रियजन को, अगर आपने पहले से ऐसा नहीं किया है तो । कृपया जांच लें कि क्या आपके नामांकित व्यक्ति का नाम पॉलिसी अनुसूची में ठीक से प्रदर्शित हो रहा है या नहीं। किसी भी समय नामांकन किया या बदला जा सकता है। हालांकि, यदि आप अपनी पॉलिसी सौंप देते हैं [उदहारण के लिए, बैंक को, ऋण प्राप्त करने के लिए], तो नामांकन स्वतः रद्द हो जाता है। पुनः प्राप्ति पर, पॉलिसी का स्वामित्व आपको वापस मिल जाता है, लेकिन पुराना नामांकन खुद-ब-खुद पुनर्जीवित नहीं होता है। आपको, ऐसे मामलों में, नए सिरे से नामांकन करना होगा।

जीवन सुरक्षा योजना धारक को उस व्यक्ति को नामांकित करने की सलाह दी जाती है जिसे दावे की राशि उसकी मृत्यु की स्थिति में देय होगी। नाबालिग नामांकित व्यक्ति के मामले में, नियुक्त व्यक्ति (अभिभावक), जो कि नाबालिग की ओर से कही गयी राशि प्राप्त कर सकता है, का नाम और सहमती का होना आवश्यक है। उस स्थिति में, जब नामिती की मृत्यु जीवन सुरक्षा धारक / बीमाधारक से पहले हो जाती है, नामांकन में परिवर्तन को आपके प्रेषालय / डाकघर (Postal Office) के माध्यम से सीपीसी के साथ पंजीकृत करना आवश्यक है।

पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी का निरस्त हो जाना:
पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी (जीवन सुरक्षा योजना) को निरस्त तब माना जाएगा, यदि आप प्रीमियम/प्रीमियमों को उनके नियत तिथियों तक भुगतान करने में असफल रहते हैं। तीन वर्षों से कम अवधि की पॉलिसी के मामले में, अगर छह से अधिक प्रीमियमों का भुगतान नहीं किया जाता है, पॉलिसी निरस्त हो जाती है। तीन से अधिक वर्षों की अवधि की पॉलिसियों के मामले में, यदि बारह से अधिक प्रीमियमों का भुगतान नहीं किया जाता है, तो पॉलिसी निरस्त हो जाती है।

पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी का पुनर्स्थापन:
एक बंद पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी को पुनः स्थापित किया जा सकता है। निम्नलिखित दो स्थितियों में स्वत: पुनर्स्थापना की अनुमति है, जैसे कि (i) पॉलिसी ने 3 वर्ष की अवधि पूरी कर ली है और 12 महीने के प्रीमियमों का भुगतान नहीं किया गया है, और (ii) पॉलिसी ने 3 वर्ष की अवधि पूरी नहीं की है और 6 महीने के प्रीमियमों का भुगतान नहीं किया गया है। डाक विभाग द्वारा निर्धारित दरों पर ब्याज के साथ बीमाधारक इस तरह के भुगतान की तिथि तक प्रीमियमों के सभी बकाये जमा कर सकता है। इस आशय के बारे में, अपने द्वारा हस्ताक्षरित निर्धारित प्रपत्र में अपने निरंतर अच्छे स्वास्थ्य का प्रमाण पत्र तथा अपने नियोक्ता द्वारा यह प्रमाणित करते हुए कि इस अवधि के दौरान चिकित्सा आधार पर अपने कोई भी अवकाश नहीं लिया है के एक प्रमाण पत्र के साथ, आपको अपने डाकघर के माध्यम से मुख्य महा डाकपाल को सूचित करना चाहिए।

ऋण:
यदि लाइफ इंस्युरेन्स पॉलिसी न्यूनतम 03 वर्षों से परिचालन में है और अन्यथा अभारित है तथा योजना धारक ने ₹ 1000/- का न्यूनतम अभ्यर्पण मूल्य प्राप्त कर लिया है तो इसकी सिक्युरिटी के स्थान में उसे ऋण प्रदान किया जा सकता है। निर्धारित शर्तों को पूरा करने के बाद अनुवर्ती ऋण भी स्वीकार्य है।

Dak Jeevan Bima Yojana अभियोग / शिकायत:

यूँ तो पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स का अथक प्रयास रहता है कि उसका पॉलिसी बेयरर क्लाइंट प्रदत्त सेवाओं से सर्वदा संतुष्ट रहे, तिस पर भी किसी भी प्रकारेण सेवा से वह असंतुष्ट है तो ऐसे स्थिति में एक बार फिर इसके लिए सबसे अच्छी जगह डाकघर है जो पॉलिसी-संबंधी सेवाएं प्रदान करता है। पोस्टल लाइफ इंस्युरेन्स ऑफिस अपने जीवनसुरक्षा योजना धारकों के परामर्श देता है आप उन्हें दूरभाष अंकसंख्या / टेलीफोन के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं अथवा उन्हें लिख सकते हैं या वहां जा भी सकते हैं। हालांकि, आप यहां पर जाकर तथा pli.dte@gmail.com के ई-मेल के माध्यमों से इंटरनेट का उपयोग भी कर सकते हैं जहां हमारे पास आपकी शिकायतों के पंजीकरण की एक सुविधा है| आप जहाँ भी स्थित हैं, यदि शिकायत इंटरनेट के माध्यम से पंजीकृत हुई है, तो वह उसी समय पीएलआई कार्यालय तक पहुंच जाएगी।

संपर्क माध्यम:
हमें आपके टेलीफोन नंबर और ईमेल आईडी को नोट करने में प्रसन्नता होगी क्योंकि वे आपके डाक पते के संपूरक होते हैं, बशर्ते उन्हें साझा करने में आपको कोई आपत्ति नहीं है। हम आपसे अनुरोध करेंगे कि आप इस बात का अपने सेवा प्रदाता डाकघर को भी सूचित कर दें ताकि वह इसे दर्ज कर सकें। इससे आपको बेहतर सेवा देने में मदद मिलेगी|

उत्तरजीविता लाभ:
यह देखने के लिए कि क्या आपके आवधिक दावे के प्राप्य राशि आपको मिलने वाले हैं, कृपया अपनी पॉलिसी अनुसूची [प्रथम पृष्ठ] की जांच कर लें। यदि हां, तो

ध्यान देय निर्देशों का पालन करें:

डाक जीवन बीमा (Postal Life Insurance)
कार्य करने के लिए – परीक्षण सूची
(To Do Task – Check-List)
क्रमांक मेरी पीएलआई जाँच सूची टिक चिह्न लगायें
01) कि मैंने भविष्य के लिए मेरे अपने ग्रामीण जीवन सुरक्षा पत्र अनुबंध / बीमा योजना अनुबंध (विलेज पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड) को एक सुरक्षित स्थान पर रख दिया है ।
02) कि मैंने मेरे जीवन ग्रामीण सुरक्षा पत्र अनुबंध (विलेज लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड) रखे जाने वाले स्थान के बारे में किसी को सूचित कर दिया / बताया हुआ है ।
03) कि मैंने अपने मेरे अपने ग्रामीण जीवन सुरक्षा पत्र अनुबंध / बीमा योजना अनुबंध (विलेज लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड) के पृष्ठ 1 में जीवन सुरक्षा पत्र अनुसूची (पॉलिसी स्केड्यूल / पॉलिसी पैनल) का उचित व संपूर्ण सशब्द अवलोकन एवं परीक्षण कर लिया है ।
04) कि मैंने भविष्य के लिए देय तिथि तथा अधिमूल्य राशि (प्रीमियम सम) के साथ मेरे अपने ग्रामीण जीवन सुरक्षा पत्र अनुबंध / बीमा योजना अनुबंध अंकसंख्या (विलेज लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड नंबर) अपनी दैनंदिनी (डायरी) में नोट लिखित रूप में (नोट) उल्लेखित कर ली है ।
05) कि मैंने मेरी अपनी दैनंदिनी में प्रेषालय / डाकघर (Post Office) का दूरभाष अंक संख्या सहित अन्य प्रासंगिक सूचना के लिख लिया है ।
06) कि मैंने ग्रामीण जीवन सुरक्षा पत्र अनुबंध / बीमा योजना अनुबंध अंकसंख्या (विलेज पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड नंबर) सूचना केंद्र का विवरण लिख लिया है ।
07) कि मैंने यह समझ लिया है कि अपने स्वयं के हित में पोस्टल डिपार्टमेंट को मुझे पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी के विषय में उचित व संपूर्ण प्रासंगिक सूचना जिसमे (अपने प्रमाचार, संपर्क दूरभाष अंक संख्या, ई-मेल-आईडी, इत्यादि समयोचित अद्यतनीकरण परिवर्तन) के विषय में सूचित करते रहना चाहिए ।
08) कि मैंने मेरी अपनी दैनंदिनी नोट कर लिया है कि सूचना नहीं प्राप्त होने की स्थिति में भी मुझे अधिमूल्य संदाय / प्रीमियम का भुगतान (पेमेंट ऑव प्रीमियम) कर देना चाहिए ।
09) कि इस ग्रामीण जीवन सुरक्षा पत्र अनुबंध / बीमा योजना अनुबंध अंकसंख्या (विलेज पोस्टल लाइफ इन्सुरेंस पॉलिसी बॉण्ड) के अंतर्गत मेरा एक नामिति है।

Dak Jeevan Bima Yojana

धन्यवाद।

हम एक दीर्घकालिक और अच्छे संबंध की आशा रखते हैं ।

सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे।

संपर्क सूत्र:
डाक जीवन सुरक्षा (डाक जीवन बीमा) / ग्रामीण डाक जीवन सुरक्षा (ग्रामीण डाक जीवन बीमा) से संबंधित पूछताछ के लिए आप टोल-फ्री नंबर 1800 180 5232 / 155232 पर संपर्क कर सकते हैं।

राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *