Yojana Pedia

Sarkari Yojana, State Government Schemes

Himachal Pradesh Sahara Yojana Online Registration Form Last Date

Himachal Pradesh Sahara Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

 Himachal Pradesh Sahara Yojana Online Registration Form Last Date हिमाचल प्रदेश सहारा योजना 2020

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर ने तिथि 15 जुलाई 2019 में “हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना” (Himachal Pradesh Support Scheme) 2019 की घोषणा कर दी ।

कैंसर सहित इन उपरोल्लिखित सात रोगों का उपचार दीर्घ अवधि तक चलता है। बड़े चिकित्सालयों में ही ऐसे रोगों का उपचार संभव हो पाता है। ऐसे में कई बार आर्थिक रूप से कमजोर मरीज इलाज करवाने में समर्थ नहीं होते। यहां तक कि उनके पास अस्पताल पहुंचने के लिए पैसे नहीं होते। इस कारण रोगोपचार के अभाव में रोगीजन घर पर ही दम तोड़ देते हैं। इस तरह के मरीजों को उपचार सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्रदेश सरकार ने यह योजना शुरू की है। पूरे प्रदेश में इसके लिए पंजीकरण शुरू हो गया है। स्वास्थ्य विभाग ने मरीजों का ब्यौरा सरकार को भेज दिया है। पंजीकरण उपरांत पूर्ण प्रक्रिया के निष्पादन पश्चात शीघ्र उनके खाते में प्रतिमाह ₹ 2000.00 की सहायता-राशि आना शुरू हो जाएगी।

Himachal Pradesh Sahara Yojana

हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना – उद्देश्य: हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना का प्रमुख उद्देश्य राज्य के ऐसे निर्धनता सीमा-रेखा अंतर्गत / गरीबी सीमा-रेखा के नीचे (Below Poverty Line) नागरिक जिनकी समग्र स्रोतों से अर्जित (प्राप्त) आय ₹ 4.00 प्रतिवर्ष न हो तथा ऐसे परिवार में कोई भी सदस्य हिमाचल 07 गंभीर रोगों में से किसी भी रोग से ग्रस्त है राज्य सरकार द्वारा घोषित हिमाचल प्रदेश सहारा योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे ।

गंभीर रोग निमनोल्लेखित हैं:

01) कैंसर (कर्कट रोग (नासूर) (Cancer),
02) पार्किन्सन-रोग (Parkinsonism)
03) पैरालिसिस (Paralysis) (अंगघात / लक़वा),
04) मस्कुलर डिस्ट्रॉफी (Muscular Dystrophy) (पेशीय दुर्विकास अथवा मांसपेशियों की दुर्बलता),
05) थैलेसिमिया (Thalassemia)
06) हिमोफिलिया (Hemophilia) (अति रक्तस्राव का रोग) तथा
07) रेनल फेल्यूर (Renal Failure) (वृक्क विघात अथवा वृक्क विघात)

Himachal Pradesh Sahara Yojana Benefits

हिमाचल प्रदेश में गंभीर रोगों से ग्रस्त जनों को उपचार के लिए प्रतिमाह ₹ 2000.00 की सहायता सरकार की ओर से दी जावेगी। रोगी जनों को सहायता राशि हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के अंतर्गत प्रदान की जावेगी। हिमाचल प्रदेश सरकार की ओर से सहायता राशि प्रत्यक्ष उनके मितव्ययिता अधिकोष लेखा (Savings Bank Account) में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से यथासमय प्रेषण-संचित कर दी जावेगी । स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए रोगियों का पंजीकरण आरम्भ कर दिया है। जल्द मरीजों को इसका लाभ मिलेगा। *पंजीकरण प्रक्रिया जारी है। मरीज अस्पताल में पंजीकरण करवाकर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश सरकार ने हिमाचल में गंभीर रोगों से ग्रसित निर्धन व आर्थिक रूप से अक्षम वर्गों के उपचार के लिए हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना आरम्भ करते हुए निम्न रोगों को घोषणा के अंतर्गत लाए रोग निम्नलिखित हैं:
01) कैंसर (कर्कट रोग (नासूर) (Cancer),
02) पार्किन्सन-रोग (Parkinsonism) (केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र रोग – कम्पन अर्थात् धूजनी या धूजन या ट्रेमर या कांपना),
03) पैरालिसिस (Paralysis) (अंगघात / लक़वा),
04) मस्कुलर डिस्ट्रॉफी (Muscular Dystrophy) (पेशीय दुर्विकास अथवा मांसपेशियों की दुर्बलता),
05) थैलेसिमिया (Thalassemia) (अनुवांशिक तौर पर मिलने वाला रक्त-रोग – जिसके कारण रक्तक्षीणता के लक्षण प्रकट होते हैं),
06) हिमोफिलिया (Hemophilia) (अति रक्तस्राव का रोग), तथा
07) रेनल फेल्यूर (Renal Failure) (वृक्क विघात अथवा वृक्क विघात)

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने पहले प्रस्तुत बड्जेट (आयव्ययक) 2019 में प्रतिमाह ₹ 2,000.00 सहायता राशि का प्रावधान किया था । उपरोक्त रोगों से ग्रस्त जन इसके लिए संबंधित उपचार चिकित्सालय में पंजीकरण करवा सकते हैं। पंजीकरण के लिए मरीजों को अस्पताल की पर्ची दिखानी होगी। पर्ची देशभर के किसी भी अस्पताल की मान्य होगी जहां उपचार करवाया गया हो।

हिमाचल प्रदेश सहारा (आश्रय) योजना अंतर्गत सहायता राशि प्राप्ति हेतु प्रक्रिया:
सम्बद्ध चिकित्सालय में प्रस्तुत करें:
01) रोगोपचार पर्ची ।
02) अधिकोष लेखा संख्या (Bank Account Number) ।
03) आधार नंबर प्रस्तुत करें ।

हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना प्राप्ति के माध्यम:

हिमाचल प्रदेश आश्रय योजना के अंतर्गत राशि प्रदेश सरकार की ओर से सीधे पात्र प्रत्यक्ष रोगियों के मितव्ययिता अधिकोष लेखा (Savings Bank Account) में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से यथासमय प्रेषण-संचित कर दी जावेगी। इससे मरीजों को काफी सुविधा मिलेगी।

डॉ. विशाल ठाकुर, जनपद कार्यक्रम अधिकारी (District Program Officer) ने हिमाचल प्रदेश सरकार की घोषणा के विषय में बताया की हिमाचल प्रदेश आश्रय (सहारा) योजना के अंतर्गत चिकित्साकलयों में रोगियों का पंजीकरण किया जा रहा है। हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की घोषणा के उपरांत 500 रोगियों की सूची हिमाचल प्रदेश सरकार को प्रेषित कर दी है।

महत्त्वपूर्ण: *पंजीकरण प्रक्रिया जारी है। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा घोषित 07 रोगों से ग्रस्त रोगीजन चिकित्सालय में पंजीकरण करवाकर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना हेतु लाभार्थियों के लिए अनिवार्य प्रलेख:

Himachal Pradesh Sahara Yojana

सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे।

01) हिमाचल प्रदेश में स्थायी निवास सदाशयी / सद्भावी प्रमाणपत्र (Bona Fide Certificate)।
02) मान्य आधार कार्ड ।
03) परिवार की समुच्चय वार्षिक आय ₹ 4.00 से अधिक न होवे ।
04) निर्धनता सीमा-रेखा अंतर्गत / गरीबी सीमा-रेखा के नीचे (Below Poverty Line) व बीपीएल कार्ड ।
05) मितव्ययिता अधिकोष लेखा (Savings Bank Account) ।

Website of the Department – www.himachal.nic.in/

राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *