Yojana Pedia

Sarkari Yojana, State Government Schemes

PM Kisan Mandhan Yojana Registration How to Apply Online Full Details

PM Kisan Mandhan Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

PM Kisan Mandhan Yojana Registration How to Apply Online Full Details प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना

प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना अर्थात “देश के अन्नदाता के परिश्रम को सम्बल, पेंशन से सुरक्षित उनका कल।”
प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना के लाभग्राही पात्रता हेतु तिथि 09 अगस्त 2019 से शुभारंभ, जो निरंतर गतिशील हैं।

PM Kisan Mandhan Yojana Registration

प्रधानमंत्री किसान मानधन पूर्वसेवार्थ वेतन योजना – लक्ष्य: भारत देश में वर्ष 2022 तक अन्नदाता कृषकों की आय को दोगुना करने के अपने अतिमहत्त्वकांक्षी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए महामहिम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कृषि मंत्रालय के अधिवीक्षण / पर्यवेक्षण में 09 अगस्त 2019 से आरम्भ प्रधानमंत्री कृषक मानधन पूर्वसेवार्थ पेंशन योजना 2019 के अंतर्गत कृषकों के लिए नामांकन स्वतंत्रता दिवस के सुअवसर पर भी किये जा सकेंगे । कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया किया कि 15 अगस्त 2019 तक देश में कम से कम 2 करोड़ कृषक बंधुओं को पंजीकृत करने के लक्ष्य को सुनिश्चित करने हेतु के लिए सभी राष्ट्र-व्यापी समस्त कॉमन सर्विस सेंटर्स (सीएससी) स्वतंत्रता दिवस पर कार्य करने के लिए निर्देश निर्गत किये जा चुके हैं ।

सीएससी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिनेश त्यागी के अनुसार समस्त ग्राम स्तर के वीएलई से देशभर में कम से कम 100 छोटे व सीमांत कृषकों का पंजीयन (रेजिस्ट्रेशन) स्वतंत्रता दिवस तक करने को कहा है । एक अनुमान के अनुसार वीएलई देश के ग्रामों में 2 लाख से अधिक जन सामान्य सेवा केंद्र (कॉमन सर्विस सेंटर्स) कार्यशील हैं ।

कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Center) व राज्य प्रमुख पदाधिकारी / स्टेट नोडल अफसर (State Nodal Officer): नामांकन / पंजीयन हेतु:

PM Kisan Mandhan Yojana प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना- केंद्र बिंदु

प्रधानमंत्री कृषक मानधन निवृत्ति वेतन योजना से निर्गत (बाहर निकलने के लिए) विकल्प प्रावधान: 05 वर्ष
न्यूनतम प्रवेश आयु: 18 वर्ष
अधिकतम आयु: 40 वर्ष
सेवानिवृत्ति की आयु: 60 वर्ष
अंशदान: सदस्य और केंद्र सरकार दोनों द्वारा योगदान की समान राशि
भुगतान प्रेषण एजेंसी: भारतीय जीवन बीमा निगम:

Option Provision for Exit: 05 Years
Minimum Entry Age: 18 Years
Maximum Age: 40 Years
Retirement Age: 60 Years
Contribution: Equal Amount of Contribution by Both Member and the Central Government
Payment Remittance Agency: Life Insurance Corporation of India:

प्रवेश आयु: 18 वर्ष
सेवानिवृत्ति आयु: 60 वर्ष
सदस्य किसान आंशिक मासिक योगदान / अंशदान : देय प्रीमियम राशि
केंद्र सरकार का मासिक अंशदान: देय प्रीमियम राशि
मासिक योगदान: सदस्य के योगदान का संचय:

Entry Age: 18 Years
Superannuation Age: 60 Years
Member Farmer’s Partial Monthly Contribution: Payable Premium Amount
Central Government’s Monthly Contribution: Payable Premium Amount
Aggregate Monthly Contribution: Accumulation of Both Member’s Contribution:

प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना 2019 – Eligibility:

ऐसे लघु कृषक व सीमान्त किसान जिनके स्वामित्व में 02 हेक्टेयर कृष्य भूमि है, प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना के पात्र होंगे ।

प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंसन स्कीम 2019 – विशिष्ट:
01) 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर समस्त लघु व सीमान्त कृषकों को पूर्वसेवार्थ वृत्ति ( पेंशन ) के रूप में ₹ 3,000.00 (₹ तीन हजार) प्रतिमाह प्रदान किए जाने का प्रावधान ।
02) कृषक की मृत्यु उपरांत उसकी धर्मपत्नी को निवृत्ति वेतन (पेंसन) के रूप में ₹ 1,500.00 (₹ एक हजार पांच सौ) प्रतिमाह दिए जाने का प्रावधान ।
03) 18 वर्ष तथा 40 वर्ष आयु के कृषक 60 वर्ष की आयु तक ₹ 55.00 तथा ₹ 200.00 (₹ पचपन से ₹ दो सौ) प्रतिमाह तक निवृत्ति वेतन निधि में पेंसन फण्ड (Pension Fund) के लिए अंशदान करना अनिवार्य है ।
04) केंद्र सरकार भी कृषक द्वारा संचित किए गए अंशदान धनराशि के समतुल्य अंशदान करेगी ।
05) केंद्र सरकार की ओर से 50% अधिमूल्य (प्रीमियम) दिया जावेगा ।
06) जीवन सुरक्षा निगम / जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के माध्यम से कृषक को निवृत्ति वेतन दिया जावेगा ।

प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना अंतर्गत देय अधिमूल्य (प्रीमियम) धनराशि हेतु आदर्श आयु सीमा :

न्यूनतम आयु: 18 वर्ष ।
अधिकतम आयु: 40 वर्ष

प्रधानमंत्री किसान मानधन निवृत्ति वेतन योजना के अंतर्गत लाभग्राही बनाने के लिए कृषकों को अधिकतर ₹ 200.00 अधिमूल्य अंशदान राशि देय होगा लेकिन आयु अगर कम है तो प्रीमियम की राशि भी कम होगी।

18 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 55.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 55.00
19 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 58.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 58.00
20 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 61.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 61.00
21 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 64.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 64.00
22 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 68.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 68.00
23 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 72.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 72.00
24 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 76.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 76.00
25 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 80.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 80.00
26 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 85.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 85.00
28 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 95.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 95.00
29 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 100.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 100.00
30 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 105.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 105.00
31 वर्ष की आयु वालों के लिए कृषकों द्वारा अंशदान ₹ 110.00 + केंद्र सरकार द्वारा योगदान ₹ 110.00
40 वर्ष की आयु तक प्रत्येक वर्ष ₹ 10.00 प्रीमियम में वृद्धि होने के कारण पुनः ₹ 200.00 तक प्रीमियम पहुंच जाएगा।

प्रधानमंत्री कृषक मानधन योजना के सन्दर्भ में केंद्र सरकार में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्वीट् (Tweet) के माध्यम से सूचित करते हुए पात्रता के विषय में स्पष्ट किया है। प्रधानमंत्री कृषक मानधन योजना के अंतर्गत आवेदन हेतु लाभग्राही बनाने हेतु लिए प्रथम नियम आयु है (अनुवर्ती भाग में विवरणित सूचना उपलब्ध) । अर्थात कृषक बंधु कि न्यूनतम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष के मध्य होनी चाहिए ।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के सन्दर्भ में द्वितीय नामांकन (रेजिस्ट्रेशन) हेतु के लिए आवेदक के लिए आवश्यक है कि उनके पास आधार पत्रक / आधार कार्ड होना जरूरी है। द्वितीय सबसे आवश्यक है भूमि प्रलेख / जमीन के कागजात है। वो है खसरा और खतौनी का पेपर है। जिसकी यह पता चलेगा कि आप किसान हैं कि नहीं। खसरा और खतौनी आपका पटवारी तैयार करता है। इसमें कृष्य भूमि के विषय में विवरण होता है ।

तृतीय किसी भी राष्ट्रीयकृत अधिकोष / क्षेत्रीय अधिकोष / सहकारी अधिकोष में (नैशनलाइज़्ड बैंक्स / रीजनल बैंक्स / कोआपरेटिव बैंक्स) में कोई मितव्ययिता अधिकोष (सेविंग्स बैंक अकाउंट) हो साथ ही आपका मोबाइल नंबर आपके मितव्ययिता अधिकोष और आधार कार्ड से लिंक हो। इसके साथ ही आपके पास राशन कार्ड भी होने चाहिए। वहीं जब रेजिस्ट्रेशन करवाने के समय समग्र प्रलेख के मूल (ऑरिजिनल्) और छायाप्रति (फोटोकॉपी) साथ लेकर जाएं। क्योंकि रेजिस्ट्रेशन सेंटर समस्त आलेखों का निरीक्षण किया जाता है । प्रलेखों के अतिरिक्त आवेदक के पास दो नवीन फोटोग्रैफ्स भी होने चाहिए।

PM Kisan Mandhan Yojana प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के अंतर्गत विकल्प:

कृषक बंधु 05 वर्ष के पश्चात प्रधानमंत्री कृषक मानधन योजना से निर्गत भी हो सकते हैं / बाहर आ सकते हैं

कृषक बंधु यदि इच्छुक हों तो पांच वर्ष तक निरंतर अंशदान के उपरांत प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना से स्वेच्छा से निर्गत हो सकते हैं / बाहर भी आ सकते हैं । प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना की समयावधि में उनकी योगदान राशि को निवृत्ति वेतन कोष प्रबंधक / पेंसन फण्ड मैनेजर जीवन बीमा निगम (एलआईसी) की ओर से मितव्ययिता अधिकोष (बचत बैंक) दरों की व्याज के साथ वापस कर दिया जाएगा ।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2019 – आवेदन प्रक्रिया तथा अनिवार्य प्रलेख / दस्तावेज:
कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Center) पर निःशुल्क पंजीकरण
पीएम – केएमवाई निवृत्ति वेतन / (PM-KMY) पेंसन स्कीम का फायदा उठाने के लिए कृषक बंधुओं को कॉमन सर्विस सेंटर्स पर अपना नामांकन / पंजीकरण (रेजिस्ट्रेशन) करवाने हेतु केवल आधार पत्रक (आधार कार्ड) व व्यक्तिगत अधिकोष लेखा विवरण, पासवृक (पासबुक) ले जानी होगी ।

नामांकन प्रक्रिया / रेजिस्ट्रेशन प्रोसीड्युर () – महत्त्वपूर्ण केंद्रबिंदु:

किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर पर नामांकन करवाने हेतु कृषक बंधु को अपने संग मात्र 01) आधार कार्ड व बैंक अकाउंट डिटेल ले जानी होगी। कृपया ध्यान देवें, नामांकन प्रक्रिया के समय कृषक बंधु का किसान पेंसन यूनिक नंबर और पेंसन कार्ड बनाया जाएगा ।

PM Kisan Mandhan Yojana

सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे।

किसान हेल्पलाइन कॉल सेंटर संपर्क सूत्र: टोलफ्री 1800 180 1551
निःशुल्क आवेदन केंद्र: सम्बद्ध राज्य व केंद्रशासित राज्य में स्थित कॉमन सर्विस सेंटर (साझा सेवा केंद्र / ग्राहक सेवा केंद्र), तथा स्टेट नोडल ऑफिसर (राज्य के प्रमुख अधिकारी) ॥

राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *