Yojana Pedia

Sarkari Yojana, State Government Schemes

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana Apply Online in Hindi Pdf

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana Apply Online in Hindi Pdf प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना (प्राइममिनिस्टर एम्प्लॉयमेंट जेनेरेशन प्रोग्रैम) (Prime Minister Employment Generation Program) खादी और ग्रामोद्योग आयोग द्वारा की गयी एक विशिष्ट योजना है, जिसके अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में उद्योग स्थापित कर उद्यम को परिचालित करने हेतु केंद्र सरकार के ओर से प्रोत्साहन सहायता के रूप में ऋण (Loan) तथा सरकारी अनुदान (आर्थिक सहायता) (Government Subsidy) दिए जाते हैं ।

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना

प्रधानमंत्री उद्यम (रोजगार) सृजन योजना का सबसे महत्त्वपूर्ण उद्देश्य उदीयमान शिक्षित व न्यूनतम कक्षा ०८ (आठवीं स्तर) तक ग्रामीण, महानगरों, जनपद स्तरों, आदिवासी क्षेत्रों में स्वनियोजित, आत्मनिर्भर बनने के साथ अधिक से अधिक अन्य जनों को नियोजन (काम) प्रदान कर समाजोत्थान वे देश की अर्थव्यवस्था में वृद्धि करने कर सकें ।

प्रधानमंत्री उद्यम (रोजगार) सृजन योजना के अंतर्गत प्रथमतया ग्रामीण क्षेत्र में उद्योग स्थापित (Establish / Set up) करने के लिए उदयीमान / नवोदित उद्यमी को ₹ २५.०० लाख (₹ पच्चीस लाख) तथा द्वितीय सेवा क्षेत्र में निवेश (Investment) के लिए ₹ १०.०० लाख (₹ दस लाख) तक ऋण सहायता केंद्र सरकार की ओर से दी जाती है ।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के अंतर्गत महानगरीय पुर में सृजनात्मक उद्योग स्थापित करने के लिए अनारक्षित वर्ग के युवाओं को १५% (पंद्रह प्रतिशत) तथा आरक्षित युवाओं को २५% (पच्चीस प्रतिशत) तक सरकारी अनुवृत्ति (सरकारी अनुदान) (Government Subsidy) प्रदान की जाती है ।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी अनुवृत्ति (सरकारी अनुदान) (Government Subsidy) २५% (पच्चीस प्रतिशत) तथा आरक्षित युवाओं को ३५% (पैंतीस प्रतिशत) तक प्रदान की जाती है ।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के अंतर्गत आवेदक पात्रता मानदंड:

की आवेदक की न्यूनतम आयु १८ (अठारह) वर्ष अथवा अधिक हो ।
आवेदक की न्यूनतम शिक्षा कक्षा ०८ अर्हताप्राप्त (आठवीं कक्षा पास्ड आउट) अर्हताप्राप्त हो।

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana महत्त्वपूर्ण बिंदु:

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के अंतर्गत आरंभ किये जाने वाले नए परियोजना (Project) पर उद्यमी को लाभ प्राप्त हो सकेगा ।
सेल्फ-हेल्प ग्रुप (Self-Help Group), जिन्हें किसी अन्य योजना के तहत सहायता न तो प्राप्त हुई हो न ही मिल रही हो, भी प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के अंतर्गत सहायता प्राप्त कर सकते हैं ।
समाज अधिनियम १८६० (सोसाइटी एक्ट 1860) (सोसाइटी Act 1860) के अंतर्गत पंजीकृत सोसाइटी ।
सहकारी संस्थान तथा धर्मार्थ संस्था (कोआपरेटिव इंस्टीटूयूट्स एंड चैरिटी आर्गेनाइजेशन)।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना के विषय में अधिक सूचना प्राप्त करने की लिए शहरी इलाके में (प्राएजेप्रो) (PMEGP) के लिए नोडल एजेंसी जिला उद्योग केंद्र (District Industry Center) उपलब्ध है, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में इसके लिए खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड (Khadi & Village Commission) से सम्पर्क करें ।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना अंतर्गत उद्योग स्थापित करने हेतु श्रेणियाँ:

खनिज आधारित उद्योग
वन आधारित उद्योग
कृषि आधारित उद्योग
खाद्य आधारित उद्योग
रसायन आधारित उद्योग
अभियांत्रिकी (इंजीनियरिंग)
गैर-परम्परागत (खादी के सिवाय) आधारित उद्योग
ऊर्जा वस्त्र आधारित उद्योग

सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे।

प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना हेतु पात्रता व लाभ प्राप्त करने हेतु, निम्नलिखित अनुबंधों का पालन किया जाना आवश्यक है:
आपको पीएमईजीपी ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन भरना है.
मूल निवास प्रमाण
शिक्षा प्रमाण पत्र
मान्य मतदाता पहचान पत्र
मान्य आधार कार्ड
सक्षम प्राधिकारी द्वारा निर्गत (प्रदान) जाति प्रमाण पत्र
परियोजना विवरणी (Project Report) प्रोजेक्ट रिपोर्ट

Pradhan Mantri Rojgar Srijan Yojana

अधिक सूचना के लिए प्रधानमंत्री उद्यम सृजन योजना वेबसाइट पर जाएं

राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *