Yojana Pedia

Sarkari Yojana, State Government Schemes

Sankalp Se Siddhi Yojana Application Form Last Date Apply Online

Sankalp Se Siddhi Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Sankalp Se Siddhi Yojana Application Form Last Date Apply Online संकल्प से सिद्धि योजना ॥

तिथि 08 अगस्त 1942 में भारत देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने ब्रिटिश सरकार को भारत देश को फिरंगियों की परतंत्रता से मुक्ति प्राप्त करने के लिए निर्णायक रणहुंकार भरते हुए “अंग्रेजों भारत छोड़ो” का सिंहनाद किया था एवं कहा कि अब करेंगे या मरेंगे ही रहेंगे । भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (प्रथम कार्यकाल) की समयावधि (2014 – 2019) में 09 अगस्त 2017 राष्ट्र का आह्वान करते हुए देश के नागरिकों को देश एवं समाज के प्रति मानव के कर्त्तव्य के सन्दर्भ में पुनःस्मरण कराते हुए निम्न उद्गार किये थे उनमे से एक विचार था संकल्प से सिद्धि योजना ( Sankalp Se Siddhi Yojana ) का |

Sankalp Se Siddhi Yojana

09 अगस्त 2017 दिनांक में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र का आह्वान करते हुए कहा था की अंग्रेजों भारत छोड़ो का आंदोलन 1942 में करेंगे या मरेंगे का बिगुल (ब्यूग्ल) बजा था, लेकिन आज हम कहेंगे, करेंगे और कर के रहेंगे, अगले पञ्च वर्ष (2017 से 2022 तक) अवधि का समय “संकल्प से सिद्धि” का है, इस दौरान हम स्वतंत्रता के 75 वर्ष भी पूर्ण करने की ओर अग्रसर हैं। आज के दौर में भी हमें 1942 से 1947 तक वर्तमान भावना को बनाए रखने की आवश्यकता है। ॥प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 09 अगस्त 2017॥

Sankalp Se Siddhi Yojana संकल्प से सिद्धि – प्रमुख उद्देश्य:

“संकल्प से सिद्धि” का प्रमुख उद्देश्य भारत को एक शक्तिशाली व प्रभावशाली राष्ट्र के रूप में चहुंमुखी विकास निर्माण करना । संकल्प से सिद्धि को पंचवर्षीय (2017 – 2022) अवधि में जनभागीदारी में वर्धन करने के फलस्वरूप ही सार्थक व साकार किया जा सकेगा ।

संकल्प से सिद्धि महाअभियान का आयोजन 578 कृषि विज्ञान केन्‍द्रों सहित 29 भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् के संस्‍थान / राज्‍य कृषि विश्‍वविद्यालयों तथा 52 आत्‍मा संस्‍थानों में आयोजित किया गया था ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ‘संकल्प से सिद्धि’ (संकल्प के माध्यम से प्राप्त एक सक्षम नवभारत का पुनःनिर्माण के सन्दर्भ में प्रारम्भ महाअभियान कार्यक्रम (2017 से 2022) तक एक नया भारत जन भागीदारी आंदोलन के लिए प्रारम्भ की गयी प्रथम कार्यवाही है। इस संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम का समग्र उद्देश्य देश की अर्थव्यवस्था, नागरिकों के हित में भारत राष्ट्र, मानव समाज, राष्ट्रीय व स्थानीय प्रशासन, भारत देश की समुच्चय सुरक्षा एवं अन्य ऊर्ध्वाधर विषय क्षेत्रों में देश में विविध परिवर्तन लाने का है।

आयकर विभाग, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा “संकल्प से सिद्धि” कार्यक्रम का परिलक्षित उद्देश्य देश के राष्ट्रव्यापी भ्रष्टाचार निरोध करते हुए देश की अर्थव्यवस्था के विकास में पारस्परिक जन भागीदारी सुनिश्चित करते हुए महत्त्वपूर्ण भूमिका का निवहन करना । आयकर विभाग, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (The Central Board of Direct Tax) की प्रथम कार्यवाही (Initiative) ने 30 अक्टूबर से 04 नवम्बर 2017 वर्ष में “सतर्कता जागरूकता सप्ताह” मनाया । जिसका प्रमुख उद्देश्य देश के जन व सरकार की पारस्परिक भागीदारी से समाज में भ्रष्टाचार पर नियंत्रण करना है ।

Sankalp Se Siddhi Yojana संकल्प से सिद्धि योजना – महत्त्व:

संकल्प से सिद्धि महाअभियान भारत जनआन्दोलन 2017 – 2022 का उद्देश्य जनमानस के मध्य जागरूकता उत्पन्न करके किंकर्तव्यविमूढ़ता, निर्धनता, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, गैर-स्वच्छता व अन्य कई पूर्व से ही विद्यमान नकारात्मक परिणामों से भारत देश को पूर्णतया मुक्त करना है।

संकल्प से सिद्धि महाअभियान कार्यक्रम के अंतर्गत, नवीन भारत आंदोलन भारतीय नागरिकों को भेदभाव, सांप्रदायिकता, गैर-स्वच्छता से मुक्ति इत्यादि जैसे कई सामाजिक ज्वलंत विषयों से अवगत कराने व जनभागीदारी तथा राष्ट्र व मानव समाज के प्रति व्यक्तिगत कर्त्तव्य के प्रति सजग करने की दिशा में प्रत्येक नागरिक की भागीदारी में वर्धन सुनिश्चित के लिए पूर्वकाल से आयोजित किये जा रहे हैं व आगामी कार्यक्रम भी घटित किये जावेंगे । मनुष्य की सोच में सकारात्मक परिवर्तन संभव करने के लिए संकल्प से सिद्धि आंदोलन भारतीयों में तत्काल आवश्यकता परिणत करना और नागरिकों को सुधारना इत्यादि कार्यक्षेत्रों में प्रत्येक जनमानस को आकर्षित करने के लिए शुरू किया गया अति महत्त्वपूर्ण कार्यक्रम है ।

भारत के मुख्य राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी के घोषणा पत्र के अनुरूप महामहिम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भारत को 2022 तक एक नए सक्षम, शक्तिशाली व प्रभावशाली भारत बनाने का संकल्प है ।

01) भारत को एक नैतिक पतन, दुराचरण से सुरक्षित करने व विकसित राष्ट्र बनाने की की दिशा में, केंद्र सरकार ने प्रथम कार्यवाही करते हुए, अपने द्वितीय कार्यकाल में कई सरकारी विभागों में अनुत्पादक, अकुशल, अप्रमाणिक और भ्रष्ट अधिकारियों व कर्मचारियों के विरुद्ध निर्णायक कार्यवाही करते हुए उनके शेष आधिकारिक कार्यकाल पर पूर्णविराम लगते हुए, उन्हें कार्यमुक्ति देने का अभियान करने का एक प्रमुख उद्देश्य सरकारी कार्य व कर्तव्यों में पारदर्शिता, अनुकरणीय सच्चरित्रता, नेकनीयती, कर्त्तव्य के प्रति समर्पित होने को प्रोत्साहन व बल देना है ।

सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे।

02) वर्ष 2022 तक देशव्यापी कृषकों की आय को दोगुना करने की दिशा में लिया गया संकल्प, तथा इसी दिशा में विभिन्न व्यवस्थाओं (योजनाओं) को तत्काल कार्यान्वित करने के साथ सरकारी प्रशासन को प्रशिक्षित करते हुए ग्राम-ग्राम में समस्त किसानों को अभिज्ञ कराने के लिए व्यक्तिगत संगठात्मक रूप में वृहत कर्तव्य निर्वहन करना इसी दिशा में महत्त्वपूर्ण प्रथम कर्त्तव्य है ।

Sankalp Se Siddhi Yojana
राज्‍य सरकार की योजनाएं -  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *